संक्रमण की तीसरी लहर पर असमंजस और ऊहापोह कोरो

संजयश्रीवास्तव।कोरोनाकीदूसरीलहरइसमाहविदाहोसकतीहै,मगरतीसरीलहरआशंकितहै।तीसरीलहरकेआनेनआनेपरअसमंजसहैतोइसबातकोलेकरभीकियहकबदस्

कोरोना संकट के दौरान अच्छे मानसून से आर्थिक ग

कैलाशबिश्नोई।कोविड-19महामारीकीदूसरीलहरकीवजहसेपिछलेकरीबतीनसप्ताहसेसंक्रमणकेमामलेरोजानातेजीसेबढ़रहेहैं।ऐसेमेंकईराज्योंनेस्थ

COVID-19 Outbreak: कोरोना वायरस के कहर के बीच

संजयश्रीवास्तव।कोरोनावायरसकेकहरकेबीचतमामदवाकंपनियोंकीकमाईबढ़गईहै।यहभीतबजबआजतकसहीमायनेमेंकोरोनाकीकोईदवाबाजारमेंनहींहै।कोरो

कोरोना महामारी से लड़ाई में कहां हुई चूक, साम

उमेशचतुर्वेदी।इसतथ्यसेइन्कारनहींकियाजासकताकिकोरोनामहामारीकोलेकरलोगोंमेंजागरूकताबढ़ीहै।शायदहीकोईव्यक्तिहोगा,जिसेयहपतानहीं

लॉकडाउन के अन्य विकल्पों को अमल में लाने से ब

डॉ.सुशीलकुमारसिंह।वर्तमानसमयकीवास्तविकउपलब्धिक्याहै?इसकाजवाबआसानीसेनहींमिलेगा,मगरदोटूकयहहैकिइसकाउत्तरकोरोनासेमुक्तिहै।दे

कोरोना संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए सरकार

संजयमिश्र।कोरोनावायरसनेएकबारफिरमध्यप्रदेशकीप्रगतिकारास्तारोकदियाहै।वर्ष2020कीइसमहामारीसेघायलप्रदेशउठखड़ाहोनेकीतैयारीकररह

महामारी से निपटने के लिए हुए प्रयासों को दर्ज

डॉ.अभयसिंहयादव।हालहीमेंप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीद्वाराजिलाधीशोंकीएकबैठकमेंकोरोनाकालकीमहत्वपूर्णघटनाओंएवंअनुभवोंकोजिलागजटमे

सुशासन की प्रतिमूर्ति का अवसान: मुख्यमंत्री क

[ योगीआदित्यनाथ]:गांवकीपगडंडियोंसेहोतेहुएराजनीतिका‘सिंह’बननेवालेउत्तरप्रदेशकेपूर्वमुख्यमंत्रीऔरराममंदिरआंदोलनकेप्रणेताओं

स्पैनिश फ्लू की याद दिलाने वाला कोरोना: एक सद

[ सुशीलकुमारमोदी]:लगभगएकसदीपहलेइन्हींदिनोंयानी29मई,1918कोप्रथमविश्वयुद्धमेंभागलेकरलौटेसैनिकोंकीएकटुकड़ीपानीकेजहाजसेबंबईके

सामाजिक जिम्मेदारी से मुंह मोड़ने वाले: महाराष

[ क्षमाशर्मा]:कोरोनाकहरकेकारणस्थगितहोचुकेआइपीएलकीकोलकाताटीमकेऑस्ट्रेलियनक्रिकेटरपैटकमिंसनेजबपचासहजारडॉलरपीएमकेयर्सफंडमें

शैक्षिक उत्थान: कोरोना काल के संकटों का सामना

[ बद्रीनारायण]:केंद्रीयशिक्षामंत्रालयनेनईशिक्षानीतिकेक्रियान्वयनपरकामशुरूकरदियाहै।कईराज्यसरकारोंएवंउच्चशिक्षाकेसंस्थानों

वक्त की मांग हैं विश्वस्तरीय विश्वविद्यालय: व

[ डॉ.मोनिकावर्मा]:कुछदिनपहलेविश्वभरकेशिक्षणसंस्थानोंसेजुड़ीक्यूएसवर्ल्डयूनिर्विसटीरैंकिंगरिपोर्टजारीहुई।इसमेंआठभारतीयसंस्

आंदोलन का सही मूल्यांकन आवश्यक: भारत छोड़ो आंद

[ प्रो.रजनीशकुमारशुक्ल]:जबदेशस्वतंत्रताकाअमृतमहोत्सवमनानेजारहाहैतब1942केभारतछोड़ोआंदोलनकीचर्चास्वाभाविकहै।यहएकऐसाआंदोलनथा

विश्व की चूलें हिला देने वाली महामारी कोविड क

[संजयगुप्त]:विश्वकीचूलेंहिलादेनेवालीमहामारीकोविडकाजबप्रकोपशुरूहुआथा,तबकोरोनावायरसकीपहचानचीनकेवुहानशहरमेंकीगईथी।तबचीननेयह

1971 में विजय के बावजूद गंवाया अवसर: बस एक और

[ आरविक्रमसिंह ]:आजादीकेपहलेऔरउसकेउपरांतहमभारतकेलोगसंविधानकेअतिरिक्तऐसीधुरभारतीयसोचविकसितकरनेमेंनाकामरहेजोआधुनिकपरिप्रेक

बार-बार निराश करती न्याय प्रक्रिया: एक राज्य

[ सुरेंद्रकिशोर]:पिछलेदिनोंपटनाहाईकोर्टने1999मेंघटितसेनारीनरसंहारकेसभीदोषियोंकोसजासेमुक्तकरदिया।उसकेअनुसार,‘अभियोजनपक्षइ

विश्व स्वास्थ्य संगठन में बदलाव का वक्त: डब्ल

[ जीएनवाजपेयी]:वर्ष1945मेंसंयुक्तराष्ट्रकीस्थापनाकोसाकाररूपदेनेकेलिएजबअंतरराष्ट्रीयराजनयिकबिरादरीजुटीतोएकवैश्विकस्वास्थ्

न्यायिक प्रणाली में सुधार का इंतजार: जस्टिस ब

[ विजयकुमारचौधरी]:जस्टिसशरदअरविंदबोबडेपिछलेदिनों17महीनेकाअपनाकार्यकालपूराकरभारतकेमुख्यन्यायाधीशकेपदसेसेवानिवृत्तहोगए।कार

फिल्म चयन की पारदर्शिता पर उठे सवाल, सरकार सं

नईदिल्ली[अनंतविजय]।फिल्मकारोंऔरफिल्मोंसेजुड़ीएकसंस्थाहैजिसकानामहैफिल्मफेडरेशनआफइंडिया(एफएफआई)।अन्यकामोंकेअलावायेसंस्थाहम