मत्स्य पालन, पशुपालन और मधुमक्खी पालन उद्योग के लिए वित्त मंत्री ने 53,343 करोड़ रुपए के पैकेज का ऐलान किया

वित्तमंत्रीनिर्मलासीतारमणनेआत्मनिर्भरभारतकेलिएप्रधानमंत्रीद्वाराबताएगए20लाखकरोड़रुपएकेपैकेजकेतीसरेहिस्सेपरसेपर्दाउठाया।उन्होंनेकृषिऔरइससेजुड़ीगतिविधियोंपरफोकसकरतेशुक्रवारमत्स्यउद्योगकेविकासकेलिए20,000करोड़रुपएकेपैकेजकाऐलानकिया।सीतारमणनेकहाकिइसपैकेजकोलागूकरनेसेमत्स्यउद्योगकानिर्यातबढ़करदोगुनाहोजाएगा।इसकेसाथही50लाखलोगोंकोरोजगारमिलेगा।यहांहमजानेंगेकिइसयोजनामेंक्या,किसे,कितना,कबऔरकैसेमिलेगा।

प्रधानमंत्रीमत्स्यसंपदायोजनालांचकरेगीसरकार

क्याहैयोजना:मत्स्यउद्योगकेएकीकृत,टिकाऊऔरसमावेशीविकासकेलिएप्रधानमंत्रीमत्स्यसंपदायोजनालांचहोगी

कितनामिलेगा:सरकारनेइसयोजनाकेलिए20,000करोड़रुपएकाप्रावधानकियाहै।इसमेंसे11,000करोड़रुपएमेराइन,इनलैंडफिशरीजऔरएक्वाकल्चरगतिविधियोंकेलिएदिएजाएंगे।शेष9,000करोड़रुपएइंफ्रास्ट्र्रक्चरपरखर्चकिएजाएंगे,जिसमेंफिशिंगहार्बर्स,कोल्डचेन,बाजार,आदिशामिलहैं।

किसेमिलेगा:मछुआरोंऔरमत्स्यपालनउद्यमियोंकोमिलेगायोजनाकालाभ।55लाखसेज्यादालोगोंकोमिलेगारोजगार।

कैसेमिलेगा:केजकल्चर,सीविडफार्मिंग,ओर्नामेंटलफिशरीजऔरनएफिशिंगवेसल्स,ट्रेसेबिलिटी,लैबोरेटरीनेटवर्क,आदिगतिविधियोंपरपैसाहोगाखर्च।जिसअवधिमेंमछुआरेमछलीनहींपकड़ते,उसअवधिमेंमछुआरोंकोसहयोगदियाजाएगा।मछुआरोंऔरउनकेबोटकाबीमाकियाजाएगा।

क्याहोगाफायदा:अगले5सालमें70लाखटनकाअतिरिक्तमछलीउत्पादनहोगा।55लाखलोगोंकोरोजगारमिलेगा।मत्स्यनिर्यातदोगुनाहोकरएकलाखकरोड़रुपएतकपहुंचजाएगा।

किसक्षेत्रपरहोगाफोकस:इसयोजनाकेतहतइनलैंड,हिमालयक्षेत्र,पूर्वोत्तरऔरएस्पिरेशनलजिलोंपरमुख्यफोकसरहेगा।

कृषिनिर्यातमेंमत्स्यवमत्स्यउत्पादोंकाहैअहमयोगदान

फूडप्रोडक्शनमेफिशरीजऔरएक्वाकल्चरसेक्टरकामहत्वपूर्णस्थानहै।पोषणसुरक्षादेनेकेसाथहीयहसेकटर1.4करोड़लोगोंकोरोजगारदेताहै।यहसेक्टरकृषिनिर्यातमेंभीअहमभूमिकानिभाताहै।कृषिनिर्यातमेंमत्स्यवमत्स्यउत्पादकायोगदानवॉल्यूमकेलिहाजसे13.77लाखटनऔरवैल्यूकेलिहाजसे45,106.89करोड़रुपएकाहै।यहकुलनिर्यातका10फीसदीऔरकृषिनिर्यातकाकरीब20फीसदीहै।यहसेक्टरदेशकीजीडीपीमें0.91फीसदीयोगदानकरताहै।

पशुपालनमेंनिजीनिवेशकोबढ़ावादेनेकेलिए15,000करोड़रुपएकाएनीमलहसबेंडरीइंफ्रास्ट्र्रक्चरडेवलपमेंटफंडबनेगा

क्यामिलेगा:

15,000करोड़रुपएकाकोषबनेगा

क्याहैमकसद:दुग्धप्रसंस्करण,वैल्यूएडीशनऔरकैटलफीडइंफ्रास्ट्रक्चरमेंनिजीनिवेशकोबढ़ावादेनेहैमकसद।वित्तमंत्रीनेकहाकिदेशकेकईक्षेत्रोंमेंबड़ेपैमानेपरदूधकाउत्पादनहोताहै।इनक्षेत्रोंमेंदूधउत्पादनमेंनिजीनिवेशमेंबड़ीसंभावनाहै।

किसेमिलेगा:पशुपालनक्षेत्रकेउद्यमियोंको

कैसेमिलेगा:खासउत्पादोंकेनिर्यातसेजुड़ेप्लांटलगानेकेलिएमिलेगाप्रोत्साहन

कबमिलेगा:इसबारेमेंकोईसमयसीमानहींदीगई।

राष्ट्रीयपशुरोगनियंत्रणकार्यक्रमहुआलांच,मवेशियोंमेंमुंहपकाऔरखुड़पकारोगतथाब्रुसेलोसिसकीहोगीरोकथाम

क्यामिला:

13,343करोड़रुपएइसकार्यक्रमकेलिएदिएगए

क्याहैमकसद:मवेशियोंमेंमुंहपकाऔरखुड़पकारोगतथाब्रुसेलोसिसकीरोकथाम

किसेमिलेगा:पशुपालकोंकोहोगाइसयोजनाकालाभ

कैसेमिलेगा:मवेशियोंमेंमुंहपकाऔरखुड़पकारोगतथाब्रुसेलोसिसकीरोकथामकेलिएमवेशी,भैंस,भेड़,बकरीऔरपिग(कुल53करोड़पशु)का100फीसदीवैक्सिनेशनसुनिश्चितकियाजाएगा।मंत्रीनेकहाकिअभीतक1.5करोड़गायोंऔरभैंसोंकोटैगऔरवैक्सिनेटेडकरलियागयाहै।

कबमिलेगा:कोईसमयसीमानहींबताईगई।

मधुमक्खीपालनकेविकासकेलिए500करोड़रुपएकापैकेज,उद्यमियोंकीबढ़ेगीआय,उपभोक्ताओंकोमिलेगीगुणवत्तापूर्णशहद

क्यामिला:

क्याहैमकसद:सरकारएकयोजनालागूकरेगी।इसकेतहतइंटीग्रेटेडबीकीपिंगडेवलपमेंटसेंटर,कलेक्शन,मार्केटिंगएंडस्टोरेजसेंटर,पोस्टहार्वेस्टएंडवैल्यूएडीशनकेंद्र,आदिसेसंबंधितइंफ्रास्टक्चरविकासकियाजाएगा।

किसेमिलेगा:मधुमक्खीपालकोंकोमिलेगालाभ।खासतौरसेमहिलाओंमेंकैपेसिटीबिल्डिंगकाकामकियाजाएगा।

कैसेमिलेगा:स्टैंडर्डएंडडेवलपिंगट्र्रेसेबिलिटीसिस्टमकोकार्यान्वितकियाजाएगा।गुणवत्तापूर्णन्यूक्लियसस्टॉकऔरमधुमक्खीपालकोंकाविकासकियाजाएगा।

क्याहोगाफायदा:दोलाखमधुमक्खीपालकोंकीआयबढ़ेगी।उपभोक्ताओंकोअच्छीगुणवत्तावालाशहदमिलेगा।

कबमिलेगा:समयपरसीमाकाकोईउल्लेखनहीं।

पैकेजब्रेकअपपार्ट-3सेजुड़ीयेखबरेंभीपढ़सकतेहैं...

1#खेतीसेजुड़ेइन्फ्रास्ट्रक्चरकेलिए1लाखकरोड़रुपए;किसानदूसरेराज्योंमेंउपजबेचसकेंगे

2# एग्रीइंफ्रास्ट्रक्चरपरखर्चकरस्थानीयबाजारोंकोग्लोबललेवलपरतैयारकरनेकीयोजना

3# माइक्रोफूडएंटरप्राइजेजकेलिए10,000करोड़रुपएकापैकेज

4# सरकारनेऑपरेशनग्रीनकादायराबढ़ाया,500करोड़रुपएदिएजाएंगे

5# अनाज,तेल,तिलहन,दालेंडी-रेगुलेटहोंगेऔरस्टॉककरनेकीसीमाभीहटेगी