कोरोना महामारी की रोकथाम के मामले में भारत का प्रदर्शन बेहतर, सितंबर के बाद से आर्थिक रिकवरी ने पकड़ी तेज रफ्तार

कोरोनावायरसमहामारीकीरोकथामकेमामलमेंभारतकाप्रदर्शनउम्मीदसेबेहतरहै।यहबातभारतीयस्टेटबैंक(SBI)केआर्थिकरिसर्चविभागनेसोमवारकोईकोरैपरिपोर्टमेंकही।एकअन्यरिपोर्ट'5मंथआफ्टरअनलॉक'मेंSBIनेसोमवारकोहीकहाकिसितंबरमेंदेशकीआर्थिकरिकवरीकीरफ्तारमेंतेजीआई।

'इंडियाटैकल्डकोविडमचबेटरविदआवरमॉडलकेसेज2.65लाखलोअरदैनएक्चुअल:ह्यूमनसाइकीहैजनॉटचेंज्डइन355इयर्स'शीर्षकवालीईकोरैपरिपोर्टकेमुताबिकदेशमेंकोरोनावायरसके84.49मामलेहोनेकाअनुमानथा।कन्फर्म्डकेसेजकावास्तविकआंकड़ाहालांकिइससे2.65लाखकमयानी,81.8लाखरहा।इसतरहसेकोरोनावायरसमहामारीकीरोकथामकेमामलेमेंभारतनेअच्छाप्रदर्शनकियाहै।

दिसंबरमेंकोरोनामहामारीकीदूसरीलहरशुरूहोनेकाअनुमान

रिपोर्टकेमुताबिककोरोनाप्रबंधनकेमामलेमेंमहाराष्ट्र,कर्नाटक,आंध्रप्रदेश,केरल,छत्तीसगढ़,पश्चिमबंगाल,दिल्लीऔरतमिलनाडुकाप्रदर्शनउम्मीदसेखराबरहा।वहीं,उत्तरप्रदेश,बिहार,गुजरातऔरझारखंडसहितकुछअन्यराज्योंनेस्थितिपरउम्मीदसेबेहतरकाबूपाई।SBIनेसाथहीकहाकिदेशमेंकोरोनावायरसमहामारीकीदूसरीलहरदिसंबरकेपहलेसप्ताहकेआखिरयादूसरेसप्ताहमेंफिरसेशुरूहोसकतीहै।

1665केलंदनप्लेगऔरवर्तमानमहामारीमेंलोगोंकेव्यवहारमेंकाफीसमानता

रिपोर्टकेमुताबिकवर्तमानमहामारीऔर1665केलंदनप्लेगकेदोदौरानलोगोंकेव्यवहारोंमेंहुएबदलावोंमेंकाफीसमानतादिखतीहै।दोनोंहीसमयमेंलोगज्यादापरोपकारीऔरधार्मिकहोगए।दोनोंसमयमेंहोमकुक्डफूडकाचलनबढ़ा,बाजारमेंआवश्यकवस्तुओंकीकमीहोगई,लोगोंनेमहामारीकोतबतकगंभीरतासेनहींलियाजबतकयहउनकेआसपासनहींआगई,सरकारनेकंटैक्टट्र्रेसिंगकीऔरसंक्रमितलोगोंकोआइसोलेटकियाऔरआंकड़ोंमेंहेराफेरीकीगई,ताकिवास्तविकतस्वीरकोछुपायाजासके।

GDPके3-5%केबराबरऔरराहतकीहोसकतीहैजरूरत

SBIनेअपनीरिपोर्टमेंउम्मीदजताईकि19फरवरीकेआसपासकोविड-19काप्रकोपघटजाएगा।कोरोनामहामारीकेकारणदेशमेंकामगारोंकेवर्किंगआवरमेंकरीब10फीसदीकीगिरावटआगईहै,जबकिलोअर-मिड्ल-इनकमदेशोंमेंयहगिरावटकरीब11.6फीसदीहै।इसेदेखतेहुएGDPके3-5फीसदीकेबराबरऔरराहतदियाजानाजरूरीहोसकताहै।

आर्थिकरिवकरीकेसंकेत,कईइंडेक्सपिछलेसालकेपीकसेऊपर

रिपोर्टकेमुताबिकपहलीतिमाहीकेमुकाबलेदूसरीतिमाहीमेंआर्थिकरिकवरीकेकईसंकेतदिखरहेहैं।एप्पलमोबिलिटी,RTOट्रांजेक्शंस,PMIमैन्यूफैक्चरिंग,GSTई-वेबिल,पेट्रोलकंजप्शन,व्हीकलसेल्स,SBIइंडेक्स,फूडअराइवलऔरप्राइसेजऔरएयरक्वालिटीसभीअक्टूबरमेंआर्थिकगतिविधियोंमेंसुधारकासंकेतदेरहेहैं।मैन्यूफैक्चरिंगइंडेक्स,GSTई-वेबिल,व्हीकलसेल्सजैसेकुछइंडेक्समेंतोआंकड़ापिछलेसालकीसमानअवधिकेपीकसेभीऊपरचलागयाहै।

कायमहैआर्थिकरिकवरी

SBIनेकहाकिसितंबरसेशुरूहुआसकारात्मकरुझानअबतकबनाहुआहै।अनाज,आटाऔरदालकोछोड़करबाकीसभीसेगमेंटमेंरेलढुलाईरेवेन्यूसितंबर2020केमुकाबलेअक्टूबर2020मेंबढ़ाहै।बिजलीखपतभीसितंबरकेमुकाबलेअक्टूबरमेंबढ़ीहै।अक्टूबरकाGSTरेवेन्यूसाल-दर-सालआधारपर10फीसदीज्यादारहा।

ई-वेबिलमेंलगातारबढ़ोतरी

ई-वेबिलसितंबर2020मेंरिकॉर्ड5.74करोड़परपहुंचनेकेबादअक्टूबरमेंऔरबढ़कर6.42करोड़परपहुंचगया।UPIट्राजेक्शनमेंवैल्यूऔरवॉल्यूमदोनोंमेंबढ़तजारीहैआौरवर्तमानवैल्यूप्री-कोविडस्तरकेमुकाबले1.7गुनापरहै।हालांकिबैंकोंमेंक्रेडिटसितंबरमेंतोबढ़ालेकिनअक्टूबरमेंयहबढ़ोतरीकायमनहींरहसकी।