जेएनयू कैंपस में 18 मार्च को दिखाई जाएगी अनुपम खेर की फिल्‍म

मानशगोहैन,नईदिल्‍लीअभिनेताअनुपमखेरनेहालमेंहीयहकहकरविवादपैदाकरदियाथाकिजवाहरलालनेहरू(जेएनयू)यूनिवर्सिटीनेउनकीफिल्‍म'बुद्धइनअट्रैफिकजैम'कोकैंपसमेंदिखानेकापरमिशननहींदियाथा।उधर,यूनिवर्सिटीकीतरफसेकहागयाहैकिकैंपसमेंइसफिल्‍मकोदिखानेसंबंधीकोईभीनिवेदननहींकियागयाथा।अबइसफिल्‍मको18मार्चकोशाम6बजेकैंपसमेंदिखायाजाएगा।खासबातयहहैकिछात्रसंघएबीवीपीऐसीयोजनाबनारहाहैकिफिल्‍मकीस्‍क्रीनिंगकेदौरानखेरसेराष्‍ट्रवादपरलेक्‍चरभीदिलवायाजाए।जेएनयूछात्रसंघकेजॉइंटसेक्रटरीऔरएबीवीपीमेंबरसौरभशर्मानेकहा,'मैंनेपरमिशनमांगीथीऔरसैद्धांतिकतौरपरइसेमंजूरीदेदीगईहै।फिल्‍मकेडायरेक्‍टरविवेकअग्निहोत्रीनेपरमिशनकेलिएस्‍कूलऑफआर्टएंडऐसथेटिक्‍सकेपासअप्‍लाईकियाथा।लेकिनडीननेबिनाकोईवजहबताएपरमिशनदेनेसेइन्‍कारकरदियाथा।'शर्मानेबतायाकिफिल्‍मकीस्‍क्रीनिंगकेदौरानखेरलेक्‍चरदेसकतेहैं।उधर,अग्निहोत्रीनेकहाकिशुरूमेंपरमिशनदेनेसेइन्‍कारकरदियागयाथालेकिनअबछात्रसंघफिल्‍मकीस्‍क्रीनिंगकरेगा।उन्‍होंनेयहभीदावाकियाकिवैचारिकमतभेदोंकीवजहसेस्‍क्रीनिंगकीमंजूरीनहींदीगईथी।फिल्‍मकेबारेमेंअग्निहोत्रीनेकहा,'जेएनयूमेंअभीक्‍याहोरहाहै,फिल्‍मइसीपरआधारितहै।इसमेंछात्रसंघराजनीतिऔरहालियासालोंकेदौरानइसमेंकैसेबदलावआयाहैऔरकैसेयहराजनीतिकपार्टियोंसेप्रभावितहुईहै,इसचीजकोदिखायागयाहै।यहउस'बौद्धिकआतंकवाद'परआधारितहैजिसेशैक्षणिकसंस्‍थानोंऔरमीडियामेंलड़ाजारहाहै।यहउसमामलेमेंविवादास्‍पदहैकिइसकीविचारधाराकाफीअलगहै।यहभारतकीउसनईविचारधारापरआधारितहैजिसकाफिलहालअनुसरणकियाजारहाहै।यहजेएनयूकीहालियाराजनीतिपरआधारितहै।'बतादेंकियहफिल्‍मपांचवेंदादासाहेबफाल्‍केफिल्‍मफेस्टिवलकेलिएआधिकारिकतौरपरनामितहोचुकीहैऔरमैड्रिडफिल्‍मफेस्टिवलमेंइसेतीननॉमिनेशंसभीमिलचुकेहैं।इसमेंमैनेजमेंटबैकग्राउंडकेएकवैसेस्‍टूडेंटकीकहानीहैजोटॉपबिजनेसस्‍कूलसेपढ़ाईकरनेकेबादभारतमेंमॉरलपुलिसिंगकेरैडिकलफंडामेंटलिज्‍मकेखिलाफकामयाबइंटरनेटकैंपेनचलाताहैऔररातोंरातकाफीसुर्खियांबटोरलेताहै।इसफिल्‍ममेंअनुपमखेरनेइसस्‍टूडेंटकेटीचरकाकिरदारनिभायाहै।इसखबरकोअंग्रेजीमेंपढ़ें:Kher'sfilmtobeshownatuniversitytomorrow