BSNL-MTNL की सैलरी की वजह से सरकार ने लिया VRS का फैसला: रवि शंकर प्रसाद

नईदिल्ली।लगातारघाटेमेंचलरहीसरकारीटेलिकॉमकंपनियोंकीहालातसुधारनेकेलिएसरकारनेवीआरएसकाफैसलालिया।केंद्रसरकारनेसरकारीस्वामित्ववालीटेलीकॉमकंपनियोंभारतसंचारनिगमलिमिटेड(बीएसएनएल)औरमहानगरटेलीफोननिगमलिमिटेड(एमटीएनएल)केलिएकेंद्रसरकारनेएकरिवाइवलप्लानतैयारकियाहै।सरकारनेसरकारीकर्मचारियोंकेलिएवॉलेंटिरीरिटायरमेंटस्कीम(VRS)प्लानलॉन्चकिया,जिसकारिस्पांसभीबेहतरमिला।बड़ीसंख्यामेंकर्मचारियोंनेVRSकेलिएआवेदनभराहै।

आजराज्यसभामेंएकसवालकेजवाबमेंजानकारीदेतेहुएदूरसंचारमंत्रीरविशंकरप्रसादनेकहाकिबीएसएनएलऔरएमटीएनएलदेशकेरणनीतिकएसेट्सहैं।इसलिएहमनेइनकोरिवाइवकरनेकाफैसलाकियाहै।केंद्रीयमंत्रीनेकहाकिबीएसएनएलऔरएमटीएनएलपरकर्मचारियोंकीसैलरीकासबसेबड़ाबोझहै,जिसेकमकरनेकेलिएहीवीआरएसस्कीमकीशुरुआतकीगईहै।उन्होंनेआंकड़ेपेशकरतेहुएबतायाकिBSNLपरकर्मचारीलागतकुलराजस्वमेंसे75.06फीसदीहै।वहींMTNLकी87.15फीसदीहै।जबकिनिजीटेलिकॉमकंपनीएयरटेलकीकर्मचारीलागतकुल2.95फीसदी,वोडाफोनकी5.59फीसदीऔररिलायंसजियोकी4.27फीसदीहै।

उन्होंनेकहाकिइनआंकड़ोंकोदेखेंतोवोडाफोनसेतुलनाकीजाएतोबीएसएनएलकीकर्मचारीलागत12गुनासेज्यादाहै।कर्मचारीलागतकेज्यादाबोझकोवीआरएसकेजरिएकमकियाजासकताहै।इसीलिएयेस्कीमलाईगई,जहांकर्मचारियोंकोआकर्षकपैकेजदेनेजारहेहैं।आपकोबतादेंकिसोमवारतकबीएसएनएल-एमटीएनलके92,000सेज्यादाकर्मचारीवीआरएसकेलिएआवेदनदियाहै।वीआरएसकेलिएआवेदनदेनेकीसीमा5दिसंबरतकहै।