भारत ने आकाश मिसाइल के नये संस्करण का सफल परीक्षण किया

रक्षामंत्रीराजनाथसिंहनेDRDO,IAFऔरइससेजुड़ीविनिर्माणएजेंसियोंकोबधाईदी.

भारतनेबुधवारको(AkashMissile)केनयेसंस्करण(Akash-NG)काओडिशातटसेसफलपरीक्षणकिया.आधिकारिकसूत्रोंनेबतायाकिबहुद्देशीयराडार,कमांड,कंट्रोलऔरसंचारप्रणालीऔरलांचरआदिसभीप्रकारकीहथियारप्रणालीसेलैसमिसाइलकापरीक्षणदोपहरकरीबपौनेएक(12:45)बजेजमीनीमंचसेकियागया.हैदराबादस्थितरक्षाअनुसंधानऔरविकासप्रयोगशाला(DRDL)नेरक्षाअनुसंधानविकाससंगठन(DRDO)कीप्रयोगशालाओंकेसाथमिलकरइसमिसाइलप्रणालीकोविकसितकियाहै.जमीनसेहवामेंमारकरनेकीक्षमतासेलैसइसमिसाइलकापरीक्षणसमेकितपरीक्षणरेंज(आईटीआर)सेकियागया.

सूत्रोंनेबतायाकिपरीक्षणकेदौरानमिसाइलनेतेजगतिवालेऔरसंवेदनशीलहवाईलक्ष्योंपरनिशानासाधनेसेजुड़ीक्षमताकाअद्भुतप्रदर्शनकिया.सूत्रोंनेबतायाकिपरीक्षणकेदौरानमिसाइलकीउड़ानसेप्राप्तआंकड़ोंकेआधारपरसभीहथियारप्रणालीकेसफल,बिनाकिसीगड़बड़ीकेकामकरनेकीपुष्टिहुईहै.

सेवामेंआनेकेबादआकाश-एनजीहथियारप्रणालीभारतीयवायुसेनाकेलिएबहुतमहत्वपूर्णऔरउसकीक्षमताकोकईगुनाबढ़ानेवालीसाबितहोगी.रक्षामंत्रीराजनाथसिंहनेडीआरडीओ,भारतीयवायुसेनाऔरइससेजुड़ीविनिर्माणएजेंसियोंकोबधाईदी.ओडिशाकेमुख्यमंत्रीनवीनपटनायकनेट्वीटकिया,‘‘ओडिशातटपरस्थितसमेकितपरीक्षणकेन्द्रसेआकाशमिसाइलकेनयेसंस्करणकेसफलपरीक्षणपरडीआरडीओकोबधाई.''